About

जर्मनी के पूर्व चांसलर एडोल्फ हिटलर के मंत्रालय में Propoganda Minsiter रहे जोसेफ गोएबल्स का एक प्रख्यात कथन है, “किसी झूठ को अगर बार-बार बोला जाय तो वह सत्य हो जाता है.”

आज के जमाने में जब किसी के हाथ में करोड़ों लोगों तक पहुंच रखने वाले मीडिया चैनल और ऑनलाइन न्यूज पोर्टल हों तो किसी भी Propoganda का प्रसार आसान हो जाता है. हम एक ऐसे दौर में जी रहे हैं जहाँ Narratives गढ़े जाते हैं.

भारत में जोसेफ गोएबल्स टाइप प्रोपोगंडा कोई नयी बात नहीं है, ये ब्रिटिश राज के दौर से ही चला आ रहा है. जर्मनी में एक गोएबल्स था तो भारत में ब्रिटिश साम्राज्य ने सैकड़ों गोएबल्स पैदा किये थे और उन गोएबल्स की कोचिंग से निकले छात्रों ने भारत में अपनी जड़ें इतनी मजबूत कर ली हैं जिसे काट पाना बेहद मुश्किल है.

भारत में ऐसे ही गोएबल्स से निपटने के लिए जिस आक्रोश का जन्म हुआ उसी का एक छोटा सा हिस्सा है द हिन्द (The Hind).

द हिन्द सिर्फ Selective Topics पर काम करता है खासकर जो अभी हिन्दी जगत की मीडिया से दूर हैं. हम दुनिया भर में चल रहे घटनाक्रमों पर नजर रखते हैं और आपके सामने पेश करते हैं आपकी भाषा में ऐसे लेख और विचार जो आपके लिए आवश्यक हैं.

The Hind के जरिये हमारा मुख्य लक्ष्य है:

  • भू-राजनीतिक मुद्दों का विश्लेषण और हिन्दी भाषा में उन्हें पाठकों को प्रस्तुत करना (Geopolitical Analysis)
  • दुनिया भर में भारत और भारतीयों के खिलाफ चलने वाले दुष्प्रचार का जवाब देना (Tackle Anti-India Narratives)
  • ब्रिटिश साम्राज्य द्वारा लिखे गये आधारहीन इतिहास को दुनिया के सामने लाना (Expose the History of Colonial Heritage)

Team The Hind

Ravi Ojha
(Co-Founder & Editor)
Lawyer by Profession. Geopolitics and History is passion. Writes on Geopolitics, History and Intelligence affairs.

Email: raviojha06[at]gmail[dot]com

Venkatesh Bhargav
(Co-Founder & Editor)
Economics Student and Geopolitical Researcher. Writes on Geopolitics, Culture and Religion.

Email: vpadamshali1[at]gmail[dot]com